Home » Shayari » Attitude alone Shayari | Alone Shayari 2 lines in Hindi

Attitude alone Shayari | Alone Shayari 2 lines in Hindi

1/5 - (1 vote)

अकेलापन के लिए शायरी हिंदी में फोटो और स्टेटस लड़का और लड़की के लिए यहाँ पर उपलब्ध है जो आप फेसबुक, व्हाट्सप्प पर लगा सकते हो। ज़िन्दगी में कभी कभी ऐसा समय आता है जब आप काफी अकेलापन महसूस करते हो। यह आपको जितना अकेला करता है उतना ही मज़बूत बनता है। आप अपने अकेलेपन को व्यक्त कर सकते है कुछ अलोन शायरी के साथ जो लड़कों और लड़कियों के लिए लिखी गयी है। इसके लिए आपको यह अलोन स्टेटस इमेज भी मिलेगी जिन्हे आप इस्तेमाल कर सकते हो।

कुछ लोग अकेले रहना पसंद करते हैं लेकिन कई लोगों को सबके साथ रहना अच्छा लगता है। कुछ लोग इसलिए भी अकेले रहते हैं की कोई उनके साथ धोकेबाज़ी कर चुका होता है इसलिए वो और धोका नहीं लेना चाहते। यहाँ दी गयी Akelapan Hindi Shayari, Alone Status in Hindi आपके अकेलेपन को दूर करने में सहायक होगी।

हमने तन्हाइयों से जाना है
खामोशियां शोर मचाती है।

एक खासियत यह भी तो है हमारी
कि हम किसी के खास नहीं।

तेरे पास मेरी यादों का मेला रहेगा
भीड़ में रहकर भी तू अकेला रहेगा।

अकेलेपन से सीखी है मगर बात सच्ची है
दिखावे की नजदीकयों से हकीकत की दूरियाँ अच्छी है 😔

कभी-कभी हमारे जीवन में एकांत का अहसास होता है। जब रात की चादर में लिपटे हम, अपने आत्म-साथी के अभाव में, अकेलापन की गहराईयों में खो जाते है।

ये एक ऐसा अनुभव है जिसमें शब्दों की कमी महसूस होती है। परंतु कभी-कभी शब्दों का जादू ही अकेलापन के आलम को समझने में मदद करता है।

मैंने अकेलेपन को चुना है
क्योंकि लोगों को बहुत सुना है।

हाँ सीख नहीं पाए हम मीठे झूठ का हुनर,
कड़वे सच ने कई रिश्ते छीन लिए हमसे।

अपने दर्द को छुपा कर रखिए जनाब
यह शहर रोने वालो को रुलाता बहुत है।

आंखें तालाब नहीं है फिर भी भर आती हैं,
और इंसान मौसम नहीं है फिर भी बदल जाता है 😢

Attitude alone Shayari | Alone Shayari 2 lines in Hindi
Attitude alone Shayari | Alone Shayari 2 lines in Hindi

हम तो आज भी अकेले नहीं रहते,
हमारे अकेलेपन ने हमें अपना बना लिया

हम उदास रहते हैं जिसकी यादों में
वह हंस रहे हैं आज किसी की बातों में।

नाप रहा था एक उदासी की गहराई
हाथ पकड़कर वापस लायी है तन्हाई

10+ Alone Status For Boy in Hindi

अकेलापन का मतलब है केवल और एकांत। यह एक अद्वितीय अनुभव है, जिसमें व्यक्ति अपने आप से जुड़ा होता है, अपने विचारों, भावनाओं, और अनुभवों के साथ।

अकेलापन के दौरान, व्यक्ति का मन अकेला होता है, जिससे उसे अपने आप के साथ संवाद करने का अवसर मिलता है। यह एक शांति पूर्ण अनुभव हो सकता है, जिसमें व्यक्ति अपने आत्मा के साथ संपर्क में रहता है।

चाहे जितना भी, किसी को अपना बना लो,
वो एक दिन आपको, गैर महसूस करा ही देते हैं!

ये दुनिया कहने को तो अपनो का मेला है,
ध्यान से देखो तो यहां हर शख्स अकेला है

किसी की ज्यादा तो किसी की कम है
परेशानियां सबके साथ हरदम है।

कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाई भी,
हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं है। 😟

कल तक मुझे, आज़ उनको मेरा ना होना खलता है,
क्योंकि अब मुझे अकेलापन बड़ा अच्छा लगता है।

एक तेरा ख्याल ही तो है मेरे पास
वरना कौन अकेले में बैठे कर चाय पीता है।

जहां दुआओं की दलीलें भी मान्य नहीं होती
मैं वो तकदीर लिखवा कर लाया हूं।

समापन

अकेलापन के कई पहलुओं में से एक है उत्साह। जब कोई अकेला होता है, तो उसे अपने स्वयं के साथ संवाद करने का अवसर मिलता है। यह व्यक्ति को अपने लक्ष्यों और इच्छाओं के प्रति अधिक सकारात्मक और उत्साही बना सकता है। अकेलापन के दौरान, व्यक्ति को अपने आप के साथ अन्य लोगों की तुलना में कम समय बिताने का अवसर मिलता है, जो उसे अपनी स्वतंत्रता और निर्णायकता का अहसास कराता है।


Leave a Comment