Home » Shayari » ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

5/5 - (1 vote)

मनुष्य की व्यक्तित्व और सोच उसकी भावनाओं और विचारों का परिणाम होती है। आत्म-विश्वास और जीवन को नयी दिशा देने वाली सकारात्मक भावनाओं का महत्व अत्यधिक है। हिंदी शायरी एक ऐसा माध्यम है जिससे व्यक्ति अपने भावनाओं को सुंदरता से और सटीकता से अभिव्यक्त कर सकता है।

इस ब्लॉग में आप यह shayari ” ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा” निचे दिए गए लिंक से कॉपी कर सकते है ।

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो,
अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

💢 ना ❌ jine ki 🌝 खुशी 💢 ना ❌ mot ka😯 गम,
💢 जब ⏰ tak he💪 दम 💢 अपने 😎 #style 💢 से 💪 jiyege हम😎

हम भी बड़े परिंदे है जनाब जिस दिन उडेंगे ये आसमान कम पड जायेगा

शेर 🐅 के #पाँव ☝ में अगर #काँटा_चुभ जाए,
😒 तो उसका 😌 ये #मतलब_नहीं 😏 की अब #कुत्ते 🐕 #राज_करेंगे

कोई 👥 कितनी भी कोशिश कर ले हमारे 👦 जैसा बनने की,
लेकिन उसे 👤 यह पता होना चाहिये कि शेर 🦁 बनाए नही जाते,
पैदा हुआ करते हैं

वैसे दुश्मनी😈 तो हम कुत्ते🐕 से भी नहीं करते है,
पर बीच में आ जाये तो शेर🦁 को भी नहीं छोड़ते

दुश्मन तो बहुत है पर वो कहते है ना शेर का शिकार कुत्तों से नहीं होता

#हम 😎क्यो❓_डरे किसी✊👊👊 #से, हम _तो 👳पैदा ही #शेरो🦁 👉 की #बस्ती🏢👈मे हुए है..! _डरना है, 🙀 तो वो👉#लोग डरे #ज़िन्हे _चूहो🐭 ने पैदा करके #शेर 🐯का नाम👈🗣दे रखा है..!

💢 ना ❌ jine ki 🌝 खुशी 💢 ना ❌ mot ka😯 गम 💢 जब ⏰ tak he💪 दम 💢 अपने 😎 #style 💢 से 💪 jiyege हम😎

कोई 👥 कितनी भी कोशिश कर ले हमारे 👦 जैसा बनने की,
लेकिन उसे 👤 यह पता होना चाहिये कि शेर 🦁 बनाए नही जाते,
पैदा हुआ करते हैं

ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा
ऊँचा 😲 उड़कर इतना 😡 ना इतराओ 👿 परिंदो, अगर में औकात ☹ पर आ गया तो आसमान खरीद 💰 लूंगा

शायरी की एक और महत्वपूर्ण विशेषता उसकी सरलता है। यह हमें संवेदनशीलता का अनुभव कराती है, और हमारे भावनाओं को सरल शब्दों में प्रकट करने में मदद करती है। इसे पढ़कर हम अपने अंतर्मन के साथ संवाद करते हैं, और अपनी भावनाओं को सामान्य शब्दों में साझा करते हैं।

शायरी का यह जादू हमें अपनी भावनाओं की दुनिया में ले जाता है। यह हमें अपनी भावनाओं को समझने, व्यक्त करने और उनके साथ संवाद करने की कला सिखाता है। इसलिए, शायरी का अनुभव करें, और उसकी सरलता में खो जाएं।

किसी को चिढ़ाने के लिए शायरी.jpg
किसी को चिढ़ाने के लिए शायरी.jpg
[20+] किसी को चिढ़ाने के लिए शायरी
[20+] किसी को चिढ़ाने के लिए शायरी

Leave a Comment