Home » हिंदी लेख » होली पर निबन्ध 200 शब्दों | Essay on Holi in 200 words in Hindi

होली पर निबन्ध 200 शब्दों | Essay on Holi in 200 words in Hindi

Rate this post

होली भारतीय समाज में एक महत्वपूर्ण पर्व है, जो रंगों, उत्साह, और समरसता का प्रतीक है। यह पर्व फाल्गुन माह के पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस निबंध में, हम होली के इतिहास, महत्व, और इसे मनाने के प्रमुख तरीकों पर विचार करेंगे।

होली का इतिहास:

होली का इतिहास वेदिक काल में खोजा जा सकता है, जब लोग अग्नि की पूजा करते थे और अपने बुरे कर्मों को जलाकर नए आरंभ के लिए तैयार होते थे। इसके साथ होली को फाल्गुन मास की पूर्णिमा पर जलाने की परंपरा भी जुड़ी है, जो सूर्य के प्रति श्रद्धा का प्रतीक है।

PlantDekho Poster
https://www.plantdekho.shop/

होली का महत्व:

होली का महत्व अनेक है। पहले तो, यह पर्व समरसता और एकता का प्रतीक है, जो समाज में खुशहाली और सामूहिक खुशियों को बढ़ाता है। दूसरे, इसे रंगों के उत्सव के रूप में मनाने से जीवन में रंग भर जाता है और उत्साह और प्रसन्नता का माहौल बनता है।

होली पर निबन्ध 200 शब्दों | Essay on Holi in 200 words in Hindi
होली पर निबन्ध 200 शब्दों | Essay on Holi in 200 words in Hindi

होली के पर्व की तैयारियां:

होली के पर्व की तैयारियां बहुत ही मनोरंजनात्मक होती हैं। लोग घरों को सजाते हैं, गुजियां बनाते हैं, और रंगों की धूम मचाते हैं। विभिन्न रंगों के पाउडर, पिचकारियां, और गुलाल का इस्तेमाल करके लोग एक-दूसरे पर रंग फेकते हैं और खुशियों का उत्सव मनाते हैं।

होली त्यौहार कैसे मनाया जाता है:

बुराई पर अच्छाई की इस जीत को व्यक्त करने के लिए होली की पूर्व-संध्या पर होलिका दहन होती है। यह माना जाता है कि सभी बुरी शक्तियाँ उस आग में जल जाती हैं। अगली सुबह लोग रंगों से खेलते हैं। वे एक-दूसरे को गले लगाते हैं। बच्चे एक-दूसरे पर रंगीन गुब्बारे फेंकते हैं। वे पिचकारियों से खेलते हैं। बड़ी-बड़ी टंकियाँ रंगीन पानी से भर दी जाती हैं। लोग इस पानी को एक-दूसरे पर फेंकते हैं और आनंद लेते हैं। संध्या-काल में लोग एक-दूसरे के चेहरों पर गुलाल लगाते हैं। बच्चे अपने से बड़ों के पैरों पर गुलाल रखकर उनसे आशीर्वाद लेते हैं। अनेक स्वादिष्ट व्यंजन, जैसे – गुलाब जामुन, गुजिया, दहीबड़ा, सवैयाँ एवं मालपुआ बनाए जाते हैं। प्रत्येक व्यक्ति उन्हें खाता है और त्योहार का आनंद लेता है।

PlantDekho Poster
https://www.plantdekho.shop/

होली के खास पर्वोत्सव:

होली के पर्व की शुरुआत होती है धुलंडी के साथ, जिसमें लोग एक-दूसरे पर रंग फेकते हैं और एक-दूसरे के साथ खुशियों का उत्सव मनाते हैं। इसके बाद, लोग मिलकर गुजियां खाते हैं और एक-दूसरे को मिठाई बाँटते हैं। इसके अलावा, होली की सबसे प्रसिद्ध परंपरा हैं पुतले जलाना, जिसमें लोग भगवान श्रीकृष्ण के बलिदान को याद करते हैं।

होली पर 10 पंक्तियाँ (बच्चों के लिए)

  1. होली एक धूमधाम से मनाया जाने वाला त्योहार है।
  2. यह हिन्दू धर्म का महत्वपूर्ण त्योहार है।
  3. होली को ‘रंगों का त्योहार’ भी कहा जाता है।
  4. इसे फाल्गुन माह में मनाया जाता है।
  5. होली हिंदू पंचांग के अनुसार आठवें दिन मनाया जाता है।
  6. लोग इस दिन एक-दूसरे पर रंग फेंकते हैं।
  7. यह त्योहार खुशियों का प्रतीक है।
  8. लोग इस दिन मिठाई खाते हैं और खेलते हैं।
  9. होली के त्योहार में समाज में एकता और भाईचारा बढ़ता है।
  10. इस दिन कई रंगीन कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

निष्कर्ष:

होली भारतीय संस्कृति का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और यह समरसता, खुशियों, और रंगों के उत्सव का प्रतीक है। इसे मनाने से लोग अपने जीवन में खुशियों को साझा करते हैं और समृद्धि का आशीर्वाद लेते हैं।


1 thought on “होली पर निबन्ध 200 शब्दों | Essay on Holi in 200 words in Hindi”

Leave a Comment